0

Bewafa Shayari Hindi Mein | याद रखोगे तो इनायत होगी

Bewafa Shayari Hindi

 

सिर्फ एक ही बात सीखी इन हुस्न वालों से हमने​​,

हसीन जिसकी जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है।  😮


मिल ही जाएगा कोई ना कोई टूट के चाहने वाला,

अब शहर का शहर तो बेवफा हो नहीं सकता।  😎


उसने महबूब ही तो बदला है फिर ताज्जुब कैसा,

दुआ कबूल ना हो तो लोग खुदा तक बदल लेते है।  😯


New Bewafa Shayari Hindi Mein

रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लग के वो,

ऐसा लगा कि जैसे कभी बेवफा न थे वो।  😥





तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी,

वरना हमको कहाँ तुम से शिकायत होगी,

ये तो वही बेवफ़ा लोगों की दुनिया है,

तुम अगर भूल भी जाओ जो कौन सी नई बात होगी।  😎

 
Share With Friends:

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *